View Post

2.0 रिव्यू : उबाऊ हो चले फॉर्मूले को निर्देशक शंकर की कल्पनाशीलता और एक जवांदिल सुपरस्टार ने बचाया

वे फ़िल्म में आई चमत्कारिक मुठभेड़ें ही हैं, जहाँ शंकर की रचनाशीलता ने खुलकर अपना जलवा बिखेरा है
Share
View Post

भैयाजी सुपरहिट रिव्यू : साल का सबसे नाकारा बुढ़ाते सितारों का मेला

प्रीति जिंटा, सन्नी देआेल, अरशद वारसी आैर श्रेयस तलपड़े स्टारर इस फ़िल्म का नाम बॉलीवुड की प्रेतात्माएं होना चाहिए था
Share
shah rukh khan in zero
View Post

मैं पागल ही होऊंगा जो शाहरुख़ के साथ कुछ नया हासिल करने की कोशिश ना करूं: सुपरस्टार को अपने रचे किरदार में ढालने के अनुभव पर ज़ीरो के लेखक हिमांशु शर्मा

‘वो जादू जिसने हमें इतने सालों तक मोहपाश में जकड़े रखा, उसे बचाते हुए भी कुछ बिल्कुल नया रचना है’

Share
View Post

मिर्ज़ापुर रिव्यू: फ़िल्मी ठसक आैर पागलपन के बीच झूलती खुरदुरी पर बेखौफ़ अपराध कथा

हिन्दी सिनेमा के चंद सबसे उम्दा अभिनेताअों के चलते पटकथा के झोल कुछ कम नज़र आते हैं
Share
thugs-of-hindostan-movie-review-rahul-desai
View Post

ठग्स आॅफ़ हिन्दोस्तान: बेमतलब की पीरियड एपिक जिसने दिल बेचकर ग्राफ़िक्स पर पैसा लुटाया

विजय कृष्ण आचार्य निर्देशित यशराज की नई ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान चंद थके हुए सितारों का ऐसा एक्शन एडवेंचर है जिसमें ना एक्शन है आैर ना एडवेंचर।
Share
2.0-trailer-talk-rajinikanth-akshay-kumar
View Post

2.0 ट्रेलर टॉक: रजनीकांत आैर अक्षय कुमार के महायुद्ध में मोबाइल बना असली हत्यारा

निर्देशक शंकर की यह टैक्नोलॉजिकल मैग्नमआेपस 29 नवम्बर को सिनेमाघरों में रिलीज़ होनेवाली है
Share
zero-trailer-shah-rukh-khan-anushka-sharma-katrina-kaif
View Post

ज़ीरो ट्रेलर टॉक: प्रेम-त्रिकोण में फंसे बौने शाहरुख ख़ान के ताली-पीटू मुँहफ़ट संवाद, नायिका अनुष्का शर्मा का व्हीलचेयर बाउंड साइंटिस्ट अवतार आैर ग्रे शेड्स लिए कैटरीना कैफ़

हिमाँशु शर्मा की लिखी आैर आनंद एल राय निर्देशित ज़ीरो क्रिसमस के पहले 21 दिसंबर को रिलीज़ होनेवाली है
Share
View Post

कैसे बनती थीं 90 के दशक में हिन्दी फ़िल्में? पागलपन से भरे  11 किस्से, खुद सितारों की ज़ुबानी

क्या मज़ेदार बात हुई जब बॉबी देओल गुप्त के गानों की शूटिंग कर रहे थे? काजोल ने कुछ कुछ होता है में फ्रूटकेक जैसे कपड़े क्यों पहने थे? हम सुना रहे हैं सितारों के पसन्दीदा 90s के किस्से।
Share
top-10-world-cinema-titles-you-should-not-miss-at-mami
View Post

विश्व सिनेमा की वो 10 फ़िल्में जिन्हें देखना मस्ट है

वो ख़ास 10 फ़िल्में जिन्हें इस साल आपकी मस्टवॉच लिस्ट में होना ही चाहिए। इसलिए नहीं कि वो सर्वश्रेष्ठ फ़िल्में हैं, बल्कि इसलिए क्योंकि उनकी विविधता लाजवाब है आैर फ़िल्मोत्सव ऐसी रँग-बिरँगी फ़िल्मों से ही गुलज़ार होते हैं। ये सभी फ़िल्में इन दिनों चल रहे 20वें मुम्बई फ़िल्म फ़ेस्टिवल का हिस्सा हैं।
Share
View Post

‘मर्द को दर्द नहीं होता’ रिव्यू: सिनेमा में डूबी ज़िन्दगी को एक मनमौजी, ख़ुशमिज़ाज सलाम!

वासन बाला की यह मार्शल-आर्ट-ड्रैमेडी आैर बॉलीवुड कॉमेडी का मज़ेदार संगम है। ये सिनेमायी दुनिया से गहरी तरह से प्रभावित है, आैर साल की सबसे आत्मीय फ़िल्म है।
Share
View Post

मेरी माँ ने मुझसे कहा, गोविन्द ऐसा होगा पहले तुम तकलीफ में काम ढूंढोगे, फिर काम में तकलीफ ढूंढोगे- गोविंदा

गोविंदा की नयी फिल्म फ्रायडे रिलीज़ हो चुकी है। इस मौके पर उन्होंने अनुपमा चोपड़ा से अपने करियर और काम करने के तरीक़े को लेकर कई सारी बातें की
Share